Mon. Oct 19th, 2020

नई दिल्ली: बीसीसीआई ( BCCI) अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने कहा है कि घरेलू क्रिकेट सीजन रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) से 1 जनवरी से शुरू होगा. बीसीसीआई की एपेक्स काउंसिल (Apex Council) ने रविवार की शाम को बैठक की और काफी समय घरेलू कैलेंडर पर चर्चा की गयी जो भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण गड़बड़ा गया है.

यह भी पढ़ें- जोफ्रा आर्चर ने उड़ाया विराट कोहली का मजाक, अनुष्का शर्मा भी हुईं ट्रोल

गांगुली ने कहा, ‘हमने घरेलू क्रिकेट पर काफी देर तक चर्चा की और हमने संभावित रूप से एक जनवरी 2021 से टूर्नामेंट शुरू करने का फैसला किया है.’ जब उनसे पूछा गया कि क्या सीजन को छोटा किया जाएगा तो पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि बोर्ड व्यावहारिक उद्देश्यों के लिए सभी घरेलू टूर्नामेंट का आयोजन नहीं कर पायेगा.

गांगुली ने संकेत दिया कि बीसीसीआई रणजी ट्राफी के लिये जनवरी से मार्च की विंडो पर नजर लगाए हुए है. उन्होंने कहा, ‘हम निश्चित रूप से रणजी ट्राफी का पूरा सीजन कराएंगे. लेकिन सभी टूर्नामेंट का आयोजन करना शायद संभव नहीं होगा.’

यात्रा को कम करने के लिये मैचों के चार विभिन्न केंद्रों में चार ग्रुप में (ए, बी, सी और प्लेट) कराये जाने की संभावना है। उदाहरण के तौर पर पुडुचेरी सभी प्लेट ग्रुप के मैचों की मेजबानी कर सकता है।

बीसीआई के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘पुडुचेरी के पास छह मैदान हैं और उसने मेजबानी की पेशकश की है। यह प्लेट ग्रुप के मैचों की मेजबानी कर सकता है जबकि अन्य ग्रुप तीन विभिन्न केंद्रों पर खेल सकते हैं। इसका मुख्य उद्देश्य खिलाड़ियों की यात्रा को कम करना है। ’’

अधिकारी ने कहा, ‘बेंगलुरू के पास भी काफी मैदान हैं इसलिए यह एक विकल्प हो सकता है और दूसरा विकल्प धर्मशाला हो सकता है जहां बिलासपुर और नादौन इसके करीब हैं.’ गांगुली के आश्वासन से राज्य संघों को सीजन की तैयारी के लिए चीजें साफ हो गई. कोविड-19 का असर देश के ज्यादातर हिस्सों पर पड़ रहा है और ज्यादातर खिलाड़ी खुद ही ट्रेनिंग कर रहे हैं. इस हफ्ते के शुरू में उत्तराखंड एक ही छत के नीचे ट्रेनिंग करने वाली पहली टीम बनी.

बीसीसीआई अध्यक्ष ने यह भी आश्वस्त किया कि जूनियर क्रिकेट और महिला टूर्नामेंट का आयोजन मार्च और अप्रैल के बीच किया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘हमारी आयु ग्रुप और महिला क्रिकेट के लिए विस्तृत योजनाएं हैं. हम रणजी ट्राफी के साथ शुरूआत करेंगे और फिर हम अन्य टूर्नामेंट मार्च और अप्रैल के बीच करायेंगे.’ उन्होंने यह भी बाताया कि भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया में क्वारंटीन पीरियड के दौरान ट्रेनिंग करने की इजाजत दी जाएगी.

बीसीसीआई अध्यक्ष ने कहा, ‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने हमें एक कार्यक्रम भेजा है और हमने उस कार्यक्रम के तौर तरीकों पर चर्चा की. हम चार टेस्ट खेलेंगे और वो जनवरी के तीसरे हफ्ते में खत्म हो जाएंगे.’ भारतीय टीम के आस्ट्रेलियाई दौरे पर तीन वनडे, तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय और चार टेस्ट खेलने की उम्मीद है.

इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज के बारे में गांगुली ने कहा कि बीसीसीआई हालात का आकलन कर रहा है और सही समय पर अंतिम कार्यक्रम तैयार किया जायेगा. उन्होंने कहा, ‘इंग्लैंड सीरीज अभी साढ़े 3 से 4 महीने दूर है. हमारे पास अब भी समय है. हम कोविड-19 परिस्थितियों का आकलन कर रहे हैं और इसी के अनुसार फैसला करेंगे.’ भारत में सीरीज की मेजबानी के लिए (अहमदाबाद, कोलकाता और धर्मशाला) कुछ स्थल प्राथमिकता सूची में होंगे और संयुक्त अरब अमीरात दूसरा विकल्प है.
(इनपुट-भाषा)




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *