घर में इस जगह जलाये कर्पूर बरसेगा प्रचंड पैसा।

0
266

घर में इस जगह जलाये कर्पूर बरसेगा प्रचंड पैसा।

साल के किसीभी दिन श्याम के समय, आप ये उपाय कर सकते है। अचानक धन प्राप्ति के लिए अनेक लोगो ने ये उपाय किया हुआ है। अचानक धन प्राप्ति, इसका अर्थ किसीभी तरीकेसे और अनपेक्षित रूपमे, आपको कल्पनाभी नहीं है और अपेक्षा भी नहीं है, ऐसे पूर्णतः अनपेक्षित स्वरुप में ढेर सारा पैसा आपकी तरफ खींचा चला आएगा। मानो के पैसोंकी बारिश हो रही हो। अचानकसे आपके जीवन में धन प्राप्तिके योग बनने लगेंगे।

दोस्तों यह उपाय जो व्यक्ति पूर्णतः श्रद्धा भाव से करता है, पूर्णतः विश्वास से करता है उस व्यक्ति को इसका लाभ अचूक तरीकेसे प्राप्त होता है। दोस्तों वैसे तो यह उपाय हम अपने घर में, अपने वास्तु में करने वाले है। इस उपाय को करने के लिए हमें कुछ सामग्री की आवश्यकता है। समझलिजिये की, वैसेतो यह एक टोटका है। टोटका बोलने पर बहोत सारे लोग घबरा जाते है, उनके मन में नकारात्मक विचार आते है। ये इस लिए होता है, क्योंकि अनेक लोगोने इस तरह के टोटके बताते समय उनमे अतिशयोक्ति की है। इस वजह से टोटका शब्द बोलते ही आम आदमी इसे नहीं करता। दोस्तों टोटका याने बहुत ही सीधा,आसान लेकिन बहोत प्रभावशाली और कम समय में होने वाला उपाय। ऐसा उपाय जो पूर्णतः सफल होता है, अगर वह पूर्ण श्रद्धा भाव से किया जाए। तो दोस्तों बाकि चीजों की चर्चा करने के बजाय हम लोग इस उपाय के विषय की और बढ़ते है।

हमें इस टोटकेको करनेके लिए, अचानक धन प्राप्तिका उपाय करने के लिए कुछ सामग्री की जरुरत होगी, उसमे सबसे अहम् है कर्पूर। हमें इस उपाय के लिए २ से ३ कर्पूर की टिकिया लगेगी साथ ही गुलाब का फूल लगेगा, लाल रंग का गुलाब का फूल , देखिये आजकल बाजार में बहोत सारे रंगो के गुलाब के फूल मिलते है, आप उनका भी उपयोग कर सकते है। लेकिन तंत्र मंत्र शास्त्र में लाल रंग के गुलाब की अहमियत बहोतही उच्च स्तरपर वर्णन की गयी है , तो हमें लाला रंग के सुंगंधित १ या २ फूल लेने है। दोस्तों इसी के साथ आप के घर में दुर्गा माता की तस्वीर हो या मूर्ति हो तो बहोत ही उत्तम होगा। , या फिर बजार में किसी भी फोटो की दुकान में या स्टेशनरी की दुकान में या पूजा सामग्री की दुकान में आपको दुर्गा माता की तस्वीर या मूर्ति मिल जाएगी।

दोस्तों देखिये हमें ये उपाय करना है , अगर आपके पास दुर्गा माता की तस्वीर या मूर्ति नहीं है तो भी आप ये उपाय कर सकते है, जी हा १००% कर सकते है , कैसे ये मैं बताऊंगा, लेकिन आप लोगो से मेरी बिनती है की हमें अगर ये उपाय करना है , हमें बहोत सारा पैसा , धन सम्पत्ति अपने तरफ आकर्षित करनी है, तो ये सामग्री बड़े विश्वास के साथ, बड़े ही आनंद के साथ आपको बजार से खरीदकर लानी होगी और वो सामग्री लाते समय जितने आप पॉजिटिव रहोगे, जितने आप चैतन्यमई और प्रसन्न रहोगे उतनाही वह उपाय, वह टोटका प्रभावशाली बनता है।

लाखो लोगोने इसका अनुभव किया है। तो दोस्तों आप बजार से ये सामग्री खरीद लाइए, दुर्गमता की तस्वीर या मूर्ति लाइए और कुछ नहीं तो सही, आप अपने मोबाइल से दुर्गा माता की तस्वीर की प्रिंट भी निकाल सकते है, और वो तस्वीर आप अपने घर की दिवार पर चिपकाइये और उसके सामने एक बाजोट रखकर दुर्गमता की पूजा कीजिये। आप को दुर्गा माता को हल्दी कुमकुम का टिका करना है, एक शुद्ध देसी घी का दीपक प्रज्वलित करना है।अगर घी नहीं हो तो, तेल का दीपक प्रज्वलित किया तो भी चलेगा। घी के बारे में, मै बार बार कहता रहता हु की, घी इस्तमाल करते समय वह घी देसी गाय का न मिले तो ठीक है लेकिन वह कौनसे भी गाय का ही हो , क्योंकि गाय में ३३ करोड़ देवी देवताओ का वास होता है।

दोस्तों इस ब्रम्हांड में जीतनी सारी वस्तुए है, जितने सारे पदार्थ है, हम खुद इस ब्रम्हांड का एक हिस्सा है और इस ब्रम्हांड की हर एक चीज इस ब्रम्हांड से जुडी हुई है और प्रत्येक चीज एक दुसरेसे इंटर कनेक्टेड है, एक दूसरे से जुडी है है। ये जो चीजे हम लोग इकट्ठा कर रहे है, दोस्तों इन चीजों का जो इंटर रिलेशन होने वाला है आप के साथ, उससे आपके भाग्य में बड़े पैमाने में धन प्राप्ति के योग बनने वाले है। इस लिए मैं बोलता हु की कौनसा भी उपाय करते समय अगर आप आलस के साथ या नकारात्मक भावनाके साथ या फिर चिड़चिड़ापन करते हुए सामग्री इकट्ठा करते हो ,तो उसके लाभ आपको पूरी तरह से नहीं मिलेंगे ।

तो ऐसे में ये उपाय करने से भला ये उपाय न करना बेहतर है। तो दोस्तों इस तरह हमें सामग्री इकठ्ठा करनी है, सामग्री फिर एक बार बोलता हु। हमें २ या ३ कर्पूर की टिकिया लेनी है, १ या २ लाल गुलाब के फूल लेने है, दुर्गा माता की तस्वीर चलेगी, उसके बाद हमें एक छोटासा पात्र लेना है जैसे की कोई प्लेट या फिर कटोर। इसीके साथ हमें एक खाने के पान का पत्ता भी लगेगा जो हमें किसीभी पान की टपरी पे आसानीसे मिल जायेगा। आपको खली एक पान का पत्ता लाना है नाकि पान का बीड़ा। तो इसप्रकार सामग्री इकट्ठा करने के बाद, आप हप्ते के किसीभी दिन, साल के किसीभी दिन इस उपाय कर सकते है।

उपाय करनेका समय है संध्याकाल का, जब सूर्यास्त होने लगे, तब हमें इस उपाय को करनेके लिए तैयार रहना है। उपाय करते समय, उपाय करनेसे पहले स्नान करलिया तो बहोत उत्तम है , अगर स्नान करना शक्य नहीं है तो हाथ पैर धो सकते है, अगर वो भी शक्य नहीं है तो, थोडासा गंगाजल अपने शरीर पर छिडकले। साफ सफाई सभी देवी देवताओंको प्रिय होती है, और दुर्गा माता के बारे मेभी यह नियम पूर्णतः लागु होता है। इसलिए स्वच्छताका पालन करे, स्वच्छ वस्त्र परिधान कीजिये और उसके बाद यह उपाय करने के लिए हमें एक बाजोट पर माता दुर्गा की तस्वीर,मूर्ति रखनी है। अगर आपके पास तस्वीर,मूर्ति नहीं है तो अपने मोबाइल में गूगल से माता दुर्गा की तस्वीर डाउनलोड करले और वह मोबाइल उस जगहपर बाजोट पे रख दीजिए ।

उसके बाद हमें माता दुर्गा की विधिवत पूजा करनी है। हल्दी कुमकुम अर्पित करे, घी का दीपक प्रज्वलित करे। सुगन्धित धुप जलाए, और उसके बाद आपको पुरे मनसे एक या दो गुलाब के फूल माता दुर्गा को अर्पित करने है। अर्पण करने के बाद मनसे हाथ जोडके, आपके जीवन में अचानक धन प्राप्ति हो, अचानक बड़े पैमाने में धन, पैसा संपत्ति, वैभव, ऐश्वर्य आ जाये ऐसी मनमे प्रार्थना करनी है। आपके मेहनत के फल स्वरुप आपको अचानक धन प्राप्ति हो ऐसी प्रार्थना कर। फिर उसके बाद उन गुलाब की फुलोमेसे एक गुलाब का फूल आपको प्लेट में रखना है, और उस गुलाब के फूलो के ऊपर एक, दो या तीन कर्पूर टिकिया आपको रखनी है और उस कर्पूर को आपको जलाना है। यह पूरी प्रक्रिया आपको माता दुर्गा के सामने बैठकर करनी है।

दोस्तों बैठने से पहले आसन लेना न भूले। आसन के लिए कोई भी स्वच्छ वस्त्र ले सकते है। आसन पर बैठकर आपको ये सभी क्रिया आपको करनी है। गुलबकी फुलोके ऊपर हमें कर्पूर जलाना है, कर्पूर जलाने के बाद गुलाब के फुलोकि पंखुडिया कुछ हद तक जल सकती है। उसके बाद हमें फिर से उस गुलाब के फूल को मनसे माता दुर्गा को अर्पित करना है। कुछ लोग कहेंगे की फूल तो जल गया है , तो उसे कैसे अर्पित किया जाए। दोस्तों कुछ फर्क नहीं पड़ेगा, यह एक टोटका है और हम उसे पुरे मनसे, श्रद्धासे कर रहे है। वैसेभी जो कर्पूर होता है, जब हम देवी देवतावो की आरती करते है , तो उसे जलाते है तब कर्पूर के निचे जो अक्षत होते है वो भी जल जाते है, तो किसी भी प्रकार की परवाह करनेकी जरुरत नहीं है, अपने मन में किसी भी प्रकार के शंकावोको उत्पन्न होने न द। ये शंका कुशंका ही अपने उपायों को निष्प्रभ कराती है।

दोस्तों ये होगयी पहली बात। इस प्रकार हमें फिर एक बार माता दुर्गा से प्रार्थना करनी है की अपने जीवन में धन आगमन होने की। दोस्तों इसीके साथ आपको अगर यह उपाय करना शक्य नहीं है, तो आप एक और छोटा सा उपाय कर सकते है। उसमे आप को कर्पूर जलाने की आवशक्यता नही। आपको एक खाने के पान का पत्ता लेना है। वह पान माता दुर्गा की चरणोमे रखना है, और उसके ऊपर गुलाब के फूल की ७ पंखुडिया रखनी है। याद रखे इस उपाय में गुलाब का फूल नहीं बल्कि गुलाब की पंखुडिया रखनी है। और उसीके साथ उसपर एक बत्तासा रखना है। बत्तासा माता को बहोत ही प्रिय होता है। अगर आप के पास बत्तासा नहीं है तो आप कुछ भी थोडासा मीठा रख सकते है, जैसे की गूढ़। इसके बाद हमें माता से प्रार्थना करनी है अचानक धन प्राप्ति की। तो दोस्तों करके देखिये यह उपाय। यह उपाय आप साल के किसी भी दिन कर सकते है।

ॐ नमो नारायणाय।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here